44वें मातृश्री मीडिया पुरस्कारों २०१९ की घोषणा परवीन अर्शी होगी सम्मानित मातृश्री मीडिया पुरस्कार

National

परवीन अर्शी होगी सम्मानित मातृ श्री मीडिया पुरस्कार से नई दिल्ली मे , भारत में पत्रकारिता और संबंधित क्षेत्रों के विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए पुरस्कारों की एक श्रृंखला है मातृ श्री मीडिया पुरस्कार । यह पुरस्कार1975 में आपातकाल (भारत) के दिनों के दौरान स्थापित किया गया था। तब से, इस पुरस्कार प्रिंट जर्नलिज्म और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में 25 उत्कृष्ट उम्मीदवारों को प्रतिवर्ष प्रदान किया जाता है। वरिष्ठ पत्रकार दिनेश शर्मा पुरस्कार समिति के संयोजक हैं।उन्ही के अथक प्रयास और कड़ी मेहनत से इस पुरस्कार की गरिमा आज भी बनी हुई हैं |

अवार्ड कमेटी के संयोजक एवं मातृस्वर के मुख्य सम्पादक श्री दिनेश शर्मा ने पुरस्कारों की घोषणा करते हुये बताया कि इस बार अयुष्मान खुराना अभिनीत फिल्म बधाई हो को सर्वश्रेष्ठ घोषित किया गया है। इसके साथ ही देश के प्रिंट एवं टीवी मीडिया से संबंधित 29 पत्रकारों व एक समाज सेवी और एक फिल्म को भारत माता की शील्ड के योग्य समझा गया है।

परवीन अर्शी मध्य प्रदेश के एक छोटे से गांव बहादरपुर मे जन्मी एक लड़की हैं , परवीन अर्शी की इंदौर से होते हुए दिल्ली तक की पत्रकारीयता तक पहुंचने की एक अपनी ही कहानी हैं |अपनी शिक्षा दीक्षा शहर बुरहानपुर (MP) मे प्राप्त कर किस तरह उन्होने अपने लिखने के शौक को पत्रकारीयता तक पहुंचाया अपने आप मे ही अद्भुत कहानी हैं |

अपनी एक किडनी गवा देने के बाद भी अपने पत्रकार पेशे को बड़ी शिद्दत के साथ निभाया हैं और अपनी एक अलग जगह और मकाम हासिल किया हैं | शगुफ्ता टाइम्स न केवल परवीन का सपना था बल्कि एक कड़ी मेहनत का परिणाम हैं |

आज के दौर मे जब अखबार बंद होने के कगार मे हैं उस दौर मे शगुफ्ता टाइम्स का सपना साकार करना और बीमारी से जूझते हुई काम करना आसान नहीं था लकिन कर दिखाया उन्होने | परवीन अपनी कलम के दम पर आगे बढ़ रही हैं लगातार और शायरी भी कर रही हैं उनके कई लेख प्रकाशित हो चुके हैं देश की कई पत्रिकाओं मे और विदेश (तेहरान) मे भी |

परवीन अर्शी के पति रफीक विसाल भी न्यूज़ एडिटर हैं दिल्ली मे, और उनके पुत्र अर्श विसाल भी पत्रकार हैं जोकि फिलहाल मे अंग्रेज़ी / हिंदी पत्रकारीयता कर रहे हैं |

मातृ श्री मीडिया पुरस्कार को सं 2000 की शुरुआत मे भारतीय फिल्म निर्माता भी पुरस्कार प्राप्त करने के लिए पात्र थे। फिल्म बधाई हो सर्वश्रेष्ठ फिल्म घोषित |इस पुरस्कार को देश की जानी मानी हस्तियों को दिया जाता हैं जिन्होने अपने अपने कार्य क्षेत्र मे अद्भुत कार्य किये हो और तमाम कठिनाइयों के बावजूद खुद को साबित किया हो इस पुरस्कार को पत्रकारों, कार्टूनिस्टों,फोटो-पत्रकारों, वार्षिक रूप से भारतीय फिल्मों से सम्मानित,सन्दर्भपत्रकारों को अलग अलग केटेगरी मे दिया जाता हैं |

चयन समिति ने जिन और विभूतियों के नाम पर मोहर लगाई उसमें शगुफ्ता टाइम्स /हिन्दी वार्ता से परवीन अर्शी , जे एडं के एंड गुलशतान न्यूज के विजय कुमार तोगा, सांध्य महालक्ष्मी भाग्योदय से फिल्म समीक्षक विजय कुमार, और टोटल खबरें से वरिष्ठ लेखक एस एस डोकरा प्रमुख हैं।

जिन पत्रकारों के नामों पर मोहर लगी है उनमें पीटीआई से वरिष्ठ पत्रकार सर्वोत्तम जी महाठा जयपुरियार, भाषा से वरिष्ठ पत्रकार नमिता सिंह, और यूएनआई से अग्रज प्रताप सिंह व यूनिवार्ता से जितेन्द्र कुमार के अतिरिक्त नव भारत टाइम्स से पूनम गौड़, सांध्य टाइम्स से रवि भूषण द्विवेदी तथा पंजाब केसरी से कुणाल कश्यप, टाइम्स आफ इंडिया के चीफ कार्टूनिस्ट संदीप अधवारियो का नाम प्रमुख है।

समाज सेवा के लिए सेवारत पूर्व महापौर श्री आदेश गुप्ता के नाम पर चयन समिति के अधिकारियों अशोक अग्रवाल, हरीश चैपड़ा, रमेश बजाज, विशाल राणा, चेतन शर्मा, कैलाश अग्रवाल, सतेन्द्र त्रिपाठी, श्री सुरेन्द्र पंडित व परविन्दर शारदा सहित करीब 150 पाठकों ने सहमति जताई है।

दिनेश शर्मा ने बताया कि इस बार दैनिक हिन्दुस्तान से सज्जन चैधरी, पीटीआई से फोटो पत्रकार दुर्गा प्रसाद मिश्रा, एनएनआई एजेंसी से संवाददाता राजीव कुमार रंजन और कैमरामेन राहुल सिंह सहित दैनिक जागरण के वरिष्ठ पत्रकार संजीव गुप्ता और फोटोग्राफर पारस, अमर उजाला के सीनियर रिपोर्टर धीरज बैनिवाल, हरि भूमि से विनोद मणि गौतम, हमारा समाज (उर्दू) से मिन्हाज अहमद को इस योग्य समझा गया है।

इसी कड़ी में चयन समिति ने इंडिया न्यूज से विडिओ जर्नलिस्ट दिलीप अवस्थी, टोटल टीवी से सूरवीर सिंह, राजस्थान पत्रिका से फोटो एडीटर शैलेन्द्र पाण्डेय, एमएच-1 टीवी से प्रेम सिंह, आज तक टीवी से रंजीत सिंह, धर्म वेबसाइट से अरविन्द कुमार शर्मा, इंडिया न्यूज के वरिष्ठ पत्रकार विष्णु शर्मा के अतिरिक्त बेस्ट फिल्म पीआरओ के लिए शैलेष गिरी के नाम पर सहमति हुई है।

आगामी 16 जून, 2019 को चांदनी चैक स्थित अभिषेक सिनेप्लेक्स में प्रस्तावित सादे समारोह में भारत माता की शील्ड व लेखनी से केन्द्रीय मंत्री डाॅ. हर्ष वर्धन पत्रकारों को अलंकृत करेंगे। जबकि समारोह की अध्यक्षता के लिए वरिष्ठ सांसद श्री रमेश बिधूड़ी ने सहमति जताई है। इस अवार्ड की शुरूआत आपातकाल के दौरान पत्रकारों से हुये दुव्र्यवहार और उनकी निर्भीकता को देखकर की गई थी।

शहीद पत्रकार लाला जगतनारायण ने दिल्ली आकर इस अवार्ड का शुभारम्भ कराया था। पूर्व राजनीतिज्ञ प्रो. विजय कुमार मल्होत्रा ने भारत माता की शील्ड से अलंकृत किया था। हमारा नारा है … लेखनी जो सत्ता की दासी नहीं रही, सरकारी इनामों की भी प्यासी नहीं रही, यह स्वाभिमान अपना जगाती ही रहेगी और नकाब गद्दारों के उठाती ही रहेगी। समारोह में पुरस्कृत फिल्म बधाई हो का प्रदर्शन भी होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *