‘तुम बिल्कुल हम जैसी निकली’ फहमीदा रियाज़

बेहद बेबाकी से अपनी बात को कहने का अंदाज़ और खुश रहना और ज़िन्दगी के हर लम्हे को जीना कोई फहमीदा रियाज़ से सीखे ,अपने इंटरव्यू के दौरान के कुछ यादे साँझा की ख़ास तौर से हिन्दुस्तान की खुली आज़ाद फ़िज़ा जहा पर आज़ादी महसूस होती थी उन्हे , काफी करीब पाती थी खुद को […]

Continue Reading