‘एक चिड़िया-अनेक चिड़िया’ जैसी चर्चित एनिमेशन डॉक्यूमेट्री की रचियता विजया मुले नहीं रही

चिड़िया अब मात्र चिड़िया शब्द बन कर ही रह गया पहले हमारे घरों मे आंगन मे घोसला बना कर रहने वाली चिड़िया अब कभी कभार ही दिखाई देती हैं हमे | बचपन मे कार्टून देखे थे ‘एक चिड़िया-अनेक चिड़िया’ का ,काफी लोगो के जुबां पर रहता था उस कार्टून का गीत काफी चर्चित भी रहा था ये कार्टून, लेकिन कम ही लोगो को पता हैं की ये किसने बनाया था ? तो आज हम आपको बता देते हैं की कौन थी वो शख्सियत जिसने इसे बनाया था और अब वो हमारे बिच नहीं हैं विजया मुले ,जिन्होने ये चर्चित एनिमेशन डॉक्यूमेट्री बनाई थी |

विजया मुले का जन्म 16 मई, 1921 को हुआ था और 98 वर्षीय की उम्र मे विजया मुले ने रविवार (19 मई) को इस दुनिया को अलविदा कहा।1974 में बना ‘एक चिड़िया अनेक चिड़िया’ डॉक्यूमेट्री एक मिसाल है, जानी-मानी फिल्म निर्माता और फिल्म इतिहासकार विजया मुले का बनाया गया और दूरदर्शन पर प्रसारित होने वाला ये कार्टून एकता का संदेश देता है। इस एनिमेशन डॉक्यूमेट्री में कुछ चिड़ियाओं के जरिये मनुष्यों की एकता को दर्शाया-समझाया गया है। इस डॉक्यूमेंट्री की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि 40 साल बाद भी लोग इसे चाव से देखते हैं और सराहते हैं। खासकर छात्र-छात्राओं के मन पर इस डॉक्यूमेंट्रो जादुई असर होता है।

1980 के दशक में यह विज्ञापन जबरदस्त हिट एनिमेशन डॉक्यूमेट्री थी। इसे आज भी यूट्यूब के जरिये देखा जा सकता है। अपने काम में दक्ष मानी जाने वाली विजया ने ही 1959 में दिल्ली फिल्म सोसायटी की स्थापना की और बाद में फेडरेशन ऑफ फिल्म सोसाइटी की के संयुक्त सचिव बनीं।

विजया मुले की बेटी और अभिनेत्री सुहासिनी मुले के मुताबिक उनकी 98 वर्षीय मां पर बुढ़ापे का असर होने के बावूद भी भी उन्हे कोई बीमारी नहीं थी। उनका ब्लडप्रेशर भी ठीक था और शुगर से भी पीड़ित नहीं थीं।

इसी तरह घरौंदा” जैसी लोकप्रिय फिल्म बनाने वाले और विजया मुले के सहयोगी वयोवृद्ध फिल्म निर्देशक-निर्माता भीमसेन खुराना का भी 17 अप्रैल 2018 को 81 वर्ष की आयु में मुम्बई में निधन हो गया था। उन्हें भारतीय टेलीविज़न उद्योग में किस क्षेत्र में अतुलनीय योगदान के लिए जाना जाता है।

भीमसेन खुराना ने ही 1974 में विजया मुले के साथ मिलकर ‘एक अनेक एकता’ नामक छोटी एनीमेशन फिल्म बनाई थी, जो दूरदर्शन के इतिहास की कालजयी प्रस्तुति बनी और आज भी उस एनीमेशन को भारत के कुछ सबसे लोकप्रिय एनीमेशन फिल्मों में से एक माना जाता है। इस फिल्म का मजेदार गीत ‘एक चिड़िया – अनेक चिड़िया’ एक पूरी पीढ़ी के लिए प्रेरणा था तथा इस फिल्म की पहचान था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

HTML Snippets Powered By : XYZScripts.com