खाने मे रेनबो फूड्स, यानि सभी रंग के पोषक तत्‍वों से भरपूर फल-सब्जियों का सेवन करे

Lifestyle

रोजाना एक जैसा खाना खाते कहते ऊब जाते हैं हम और यह खाना हमारे , पेट के स्‍वास्‍थ्‍य को बिगाड़ सकता है। यानि कि पेट के हेल्‍दी बैक्‍टीरिया के विकास के लिए अलग-अलग पोषक तत्‍वों से भरपूर खाना खाना जरूरी है। इसलिए अपने पेट को स्‍वस्‍थ रखने के लिए अपनी डाइट में फर्मेंटेड फूड्स, फल, और सब्जियों की सही मात्रा शामिल करें।क्‍या आपको रोजाना नाश्‍ते में ऑमलेट ,टॉस्‍ट खाना ही पसंद हैं, तो आपको जानकर हैरानी होगी कि रोजाना एक सा नाश्‍ता करना आपकी सेहत को नुकसान भी पहुंच सकता है।

रोज़ रोज़ एक जैसा खाना खाने से क्‍या समस्‍या हो सकती है। लेकिन शायद हम नहीं जानते हैं की हम रोजाना एक सा आहार लेना शरीर को स्‍वस्‍थ करने की जगह अस्‍वस्‍थ कर सकते है। क्‍योंकि एक सा भोजन करने से शरीर को संतुलि‍त मात्रा में पोषक तत्‍व नहीं मिल पाते हैं।

शरीर के सही रूप से काम करने के लिए यह जरूरी पोषक तत्‍व विभिन्न प्रकार के भोजन और सब्जियां खाने से पूरी होती है। ऐसे में यदि हम एक ही तरह का ब्रेकफास्‍ट, लंच या डिनर करते हैं, तो आपके शरीर को पूरी तरह से पोषण नहीं मिल पाता और न्‍यूट्रीशन की कमी हो सकती है। इसलिए अपने खाने की प्लेट को विभिन्न प्रकार के फलों और सब्जियों के साथ भरें और उन्हे बदलते भी रहें और खाने मे रेनबो फूड्स, यानि सभी रंग के पोषक तत्‍वों से भरपूर फल-सब्जियों को अपने खाने में शामिल करें।

यदि आप रोजाना एक जैसा खाना खाते हैं, तो कुछ खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन करने से, कुछ पोषक तत्वों का ओवर डोज हो सकता है, जो कि आपके स्वास्थ्य को खतरे में डाल सकता है।

देश के पश्चिमी भाग से आने वाले सभी भारतीय स्नैक्स में से – कोथिम्बिर वाडी, पेट्रा, वड़ा पाव, फाफडा-जलेबी, खंडवी – ढोकला उन सभी में से एक है जिन्हे लोग खाना पसंद करते हैं और इन्ही को अन्य भारतीय स्नैक्स के विपरीत, अस्वास्थ्यकर, कैलोरी से भरपूर और कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने के रूप में चिह्नित भी किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *